आखिर जून में ही ऐसा क्यों होता है? क्या आप जानना नहीं चाहेंगे?

यह सिर्फ आपके हाथ में है चाहे आप मुट्ठी खुली रखें या बंद रखें यह रास्ता आपके हाथ में ही है फिसलता नहीं तब तक जब तक कि आप खुद अपने हाथ जोड़ कर उसे फेंक ना दें.

जून का महीना आया नहीं कि हर तरफ योग योग योग यानी सिर्फ योग की बातें शुरू हो जाती है. आजकल जहां देखो, जिसे देखो सिर्फ योगी की बातें करता आपको नजर आएगा, बच्चा हो या फिर कोई बुजुर्ग या फिर वह कोई कॉलेज का स्टूडेंट हो. इसमें लड़का हो या लड़की इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता. ऑफिस में भी लोग बातें करते फिरते हैं. योग करना है ना!
आखिर ऐसा क्या हो जाता है जून में, कि योग जून में ही याद आता है. जब आप रोज खाते ,नहाते हैं और भी बाकी के जरूरी काम करते हैं. फोन पर बातें तो आप दिनभर करते हैं जो कि कितना हेल्दी है, अनहेल्दी है अभी आपको बताने की जरूरत नहीं है. क्योंकि सिर्फ पढ़े लिखे लोग ही नहीं जो लोग कम पढ़े लिखे हैं या अनपढ़ भी हैं उन्हें भी अब पता है कि मोबाइल फोन के फायदे से ज्यादा कहीं अधिक उससे हानिकारक हैं, जो कि आपके स्वास्थ्य के लिए कतई हेल्थी नहीं .

साल भर तो आपको योग से कोई मतलब रहता नहीं लेकिन जून का महीना आया नहीं कि हर तरफ योग चर्चा होने लगती है. और बहुत तेरे लोग इस चर्चा में शामिल हो जाते हैं इसलिए नहीं उनको योग करना है. सिर्फ और सिर्फ इसलिए कि वह भी बता सके कि वह भी किस योग के शिविर में गए थे और क्या-क्या किया. कुछ लोग सिर्फ 21 जून को करते हैं तो कुछ लोग हफ्ते भर या 15 दिन करते हैं. ऐसा नहीं है कि यह गलत है कि आप हफ्ते भर कर लेते हैं यह सही है, लेकिन यह सोच सिर्फ और सिर्फ हफ्ते ,10 दिन या यूं कहें 1 महीने तक ही सीमित क्यों रखते हैं?

लिपस्टिक नहीं यह तो होठों का जाम है, आइए जानते हैं इसके कुछ खास टिप्स

योग से सिर्फ तन ही नहीं मन भी हेल्थी रहता है यानी कि स्वस्थ योग करने से आप मन से स्ट्रांग होते हैं. सही डिसीजन ले सके इसके काबिल बनते हैं.
सुंदर त्वचा, चमकीले बाल तथा छरहरे बदन के लिए अच्छी सेहत का होना परम आवश्यक है. योग सौंदर्य के लिए अत्यंत आवश्यक है, क्योंकि आंतरिक सौंदर्य से ही सही शारीरिक सौंदर्य की प्राप्ति की जा सकती है. यानी अच्छा स्वास्थ्य और सौंदर्य एक ही सिक्के के दो पहलू हैं.
आदमी को मन और शरीर दोनों से फिट रहना बहुत जरूरी है. यहां यह आप सबको राय दी जा रही है कि आप हफ्ते में कम से कम 2 से 4 दिन यो योग जरूर करें भले ही वह 5 मिनट के लिए ही क्यों ना हो? आप अपनी जिंदगी से 5 मिनट तो आप निकाल ही सकते हैं अपने स्वास्थ्य के लिए, क्योंकि अगर स्वास्थ्य बेहतर नहीं रहेगा तो फिर क्या बेहतर रहेगा?
हर्बल क्वीन शहनाज कहती है, “जब हम सौंदर्य की बात करते हैं तो हम केवल बाहरी चेहरे की सौंदर्य की ही बात नहीं करते, बल्कि इसमें आंतरिक सूरत भी शामिल होती है जिसमें लचकपन, हाव-भाव तथा शारीरिक आकर्षण होना नितांत आवश्यक होता है.”

साप्ताहिक राशिफल (18 जून – 24 जून) – जानिए कैसा होगा ये हफ्ता

एक स्वास्थ्य ही तो है जो आप खरीद नहीं सकते चाहे आपके पास कितने भी पैसे क्यों ना हो यह सिर्फ और सिर्फ आपके हाथ में है. बहुत लोगों को यह कहते हुए सुना गया है कि मेरे हाथ में क्या है? मेरे हाथ में होता तो मैं यह कर देता, वह कर देता. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि इतनी कीमती चीज आपके हाथ में है और आप बस यूं ही हाथ से गवा देते हैं. इस बात का आपको एहसास तक नहीं होता.
यह सिर्फ आपके हाथ में है चाहे आप मुट्ठी खुली रखें या बंद रखें यह रास्ता आपके हाथ में ही है फिसलता नहीं तब तक जब तक कि आप खुद अपने हाथ जोड़ कर उसे फेंक ना दें.

अगर आपको मेरी बात अच्छी नहीं लग रही है तो बोलिए, क्या मैं गलत हूं, नहीं ना! तो फिर जब जागो तभी सवेरा. यह बात करीब-करीब हर बात पर लागू होती है.
तो दोस्तों बहुत अच्छी बात है कि जून में आपने शुरू किया है शायद पिछले जून में भी शुरू किया होगा. लेकिन जो गलती आपने पिछले कर दी, उसे कदापि ना .
अगर आपने जून के महीने में योग शुरू कर ही दिया है तो इसे बंद ना करें. आप किसी को दिखाने के लिए कदापि योग ना करें. अपने मन की और तन की खुशी के लिए करें. आज ही आप यह निर्णय लें निश्चय करें कि मैं पूरी इमानदारी से यह कोशिश करूंगा या करूंगी. यानी पूरी ईमानदारी से यह आपकी कोशिश रहेगी कि आप हफ्ते में कम से कम 2 दिन नहीं तो 4 दिन योग जरूर करेंगे और योग करने के लिए अब आपको किसी ट्रेनर की जरूरत ही नहीं है आप चाहे तो बिना ट्रेनर के भी योग कर सकते हैं.

मुझे तो बस भगवान से शिकायत है, जमाने से नहीं! जमाने का क्या?

हम आपको कुछ यहां एक्सरसाइज बता रहे हैं जिसको आप बहुत ही कम समय में यानी 5 मिनट से भी कम समय में आप अपने घर पर कर सकते हैं. ठीक है आप इसे जरूर करें आज ही इस बात की कसम खाएं कि आप इसे जरूर करेंगे और कसम दिखाने के लिए नहीं अपने मन में करें क्योंकि अपने आप से किया गया वादा आप कभी नहीं तोड़ते.
तो अब जो हम कुछ आपको योग बताने जा रहे हैं आप उनमें से जो भी अगर रोज कर लेते हैं तो भी आपको स्वस्थ होने से कोई नहीं रोक सकता. यानि अब आपका स्वास्थ्य आपकी मुट्ठी में.अब आपका कोई स्वास्थ्य बिगाड़ नहीं सकता है.

धन्यवाद अपना कीमती समय हमें देने के लिए. दोस्तों हमेशा आप से कहते हैं कि हमारी पोस्ट कैसी लगी लेकिन आप कभी कोई जवाब ही नहीं देते सही लगी हो तो भी बताइए अच्छी ना लगी हो तो भी बताइए.
आप चाहें तो अपने सुझाव हमें दे सकते हैं लेकिन कुछ तो बताइए आखिर हमे पता कैसे चलेगा हमने जो इतनी मेहनत की है. आपको इतनी सारी बातें बताई हैं. आपको अच्छी लगी कि नहीं तो आज बताएंगे ना! लग तो रहा है कि बताएंगे ,आपका चेहरा बता रहा है, क्योंकि आप मन ही मन मुस्कुरा रहे हैं.
एक बार फिर से आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद और हैप्पी वर्ल्ड योग डे!

हम चाहते हैं कि महत्वपूर्ण मुद्दों पर आप अपनी राय जरूर रखें. हमारी कोशिश ऐसे ही मसलों को आपके सामने लाने की होती है – और ये भी कि हम उन पर दो-दो बात जरूर करें. मगर, ये भी जरूरी है कि मर्यादा के दायरे में रह कर. ताकि किसी को भी दुख न पहुंचे.
आपको हमारी ये पोस्ट पसंद आई हो तो आप इसे शेयर करें, कमेंट करें, लाइक करें और अपने सुझाव भी दें. आपके सुझावों का इंतजार रहेगा. धन्यवाद!

  • लोक Mantra के लेटेस्ट अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें – और हर पोस्ट अपनी टाइमलाइन पर पाने के लिए पेज को FOLLOW करने के साथ ही See First जरूर टैप / क्लिक करें.
  • Twitter के जरिये लेटेस्ट अपडेट के लिए @lokmantra को जरूर फॉलो करें.
  • Telegram के जरिये लेटेस्ट अपडेट के लिए @lokmantra चैनल ज्वाइन करें.
  • अगर आपको लगता है कि लोक Mantra पर दी गई जानकारी आपके किसी रिश्तेदार, मित्र या परिचित के काम आ सकती है तो उनसे भी शेयर करें.
  • अपने सुझाव, सलाह या कोई और जानकारी / फीडबैक देने के लिए हमारा CONTACT पेज विजिट करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: